वकील की पहचान के लिए
एक काला कोट ही काफी है!
न कोई छोटा न बड़ा
एक नाम वकील ही काफी है!
फिर भी गर कोई न पहचाने तो
वकील एकता जिंदाबाद
का एक पैगाम ही काफी है!
किसी छोटे मोटे हुक्मरान के
पद मद की तो बात ही क्या दोस्तों!
ब्रिटिश हुकूमत के हुए हश्र की
एक दास्तान ही काफी है!
वकील की पहचान के लिए
एक काला कोट ही काफी है!
:- राजेश के. भारद्वाज

Published by

Rajesh K Bhardwaj

advocate Rajasthan High Court / Supreme Court. Founder editor newspaper named Voter. interested in system revolution. Savambu writer, poet....

Leave a Reply

Your email address will not be published.